Dhyan for beginners hindi. ध्यान for beginners hindi (Meditation)


Dhyan (Meditation) for beginners hindi 

ध्यान for beginners hindi



ध्यान (meditation) भारत की प्राचीन विद्या है। ध्यान योग महर्षि पतंजलि के आष्टांग योग में से एक है। Dhyan का अर्थ  किसी एक विषय पर मन को एकाग्र करना होता है या फिर यह कहे खुद को विचारो से मुक्त कर लेना ,शून्य को प्राप्त हो जाना ही ध्यान है। वर्तमान स्थिती में जीना ही ध्यान का मूल अर्थ है। विचारो से मुक्त होकर खुद को जागरूक रखना ही ध्यान है। एकाग्रता एक टोर्च की लाइट की तरह होती है जो सिर्फ एक जगह ही फोकस करती है,लेकिन dhyan बल्ब जैसा है जो चारो तरफ रौशनी देता है।


Dhyan for beginners hindi. ध्यान for beginners hindi
dhyan(meditation) for beginners hindi

अगर आध्यात्मिक द्रष्टि से देखा जाए तो ध्यान करना क्रिया का एक रूप है,जैसे सुदर्शन क्रिया ,प्राणायाम आदि। क्रियाए सिर्फ एक मात्र साधन है ध्यान को जगाने की।

ध्यान के लिए कोई age limit नहीं है, कसी भी age का व्यक्ति कर सकता है चाहे ladies हो,gents हो या फिर बच्चे। कोई भी dhyan की practice कर अपनी daily life style को improve कर सकता हैं।

ध्यान (meditation


  • विचारो से मुक्त होना ही सबसे बड़ी problem है। hmara mind ek din me laakho thoughts produce krta hai yeh process itna fast hota hai ki pta bhi nhi chalta. जिसमे से ८०% विचार तो negative होते हैं ,कई बार खुद भी पता नहीं चलता कि जो हम सोच रहे है वह waste thoughts है। पहले तो हमे खुद अपनी checking करनी होगी के विचार किस प्रकार के है। 
  • जब तक हमारी thoughts की  quality अच्छी नहीं होगी तब तक ध्यान (dhyan)लगना मुश्किल है। तो इससे बचने के लिए पहले अपनी negative thoughts को positive में बदलने की प्रैक्टिस करनी होगी।
  • आज का माहौल इतना negative हो गया है कि  हमारा दिमाग भी सिर्फ नेगेटिव बातो मे ही उलझ कर रह जाता है ,positive  रहना तो भूल ही गए है।तो जब तक हमारे विचार शुद्ध नहीं होंगे तब तक meditation कर ही नहीं सकते। अगर ध्यान तक पहुंचना है तो पहले अपने thoughts ko positive करना hoga.
  • कहने का मतलब यह है कि आपको अपने विचारो का दमन नहीं करना है क्यूंकि जितना हम किसी बात को सोचने से खुद को मना करेंगे उतनी वो बाते याद आती रहेंगी। जैसे मान लो किसी व्यक्ति को बहुत गुस्सा आता है और वह बार बार सोचे मुझे गुस्सा नहीं करना ,हो सकता है कुछ क्षण के लिए अपने दिमाग को समझा भी लें कि गुस्सा नहीं करना लेकिन थोड़ी देर बाद गुस्सा बाहर आ ही जाएगा।
  • इसलिए आप वही सोचे जैसा खुद को देखना चाहते हैं ,आपके विचार में सिर्फ पॉजिटिव शब्दो का use हो।जब हम negative संकल्प (विचार ) करते हैं तो वह हमारे subconscious (अवचेतन मन )mind में save हो जाता है और हमारे न सोचने पर भी वही संकल्प चलता रहता। 


ध्यान कैसे करें (dhyan kese kre)


  • ध्यान करने के लिए साफ़ जगह पर साफ़ आसन पे आरामदायक होकर ,आँख बंद करके बैठ जाए और पीठ को बिलकुल सीधा रखें।
  • अपने मन को सभी बाहरी बातो से हटाकर खुद को शांत महसूस करें।
  • अब किसी मूर्ति ,ईश्वर ,गुरु,आत्मा किसी की भी धारणा करके मन को स्ठिर करके उसमे लींन हो जाए। जब किसी की धारणा करके ध्यान किया जाता है तो उसे साकार ध्यान कहते हैं।
  • बिना किसी धारणा के ध्यान करने को निराकार ध्यान कहते हैं ,एक कुशल साधक ही इस अवस्था तक जा सकता है।जैसे जैसे ध्यान गहरा होता जाता है तो व्यक्ति पर किसी भी भाव ,विचार और कल्पना का कोई असर नही पड़ता। मन और दिमाग का मौन हो जाना ही ध्यान का स्वरुप है। ध्यान के होने से व्यक्ति past ,future को छोड़कर present में जीने की कला सीख जाता है।


Dhyan for beginners hindi. ध्यान for beginners hindi
benefits of dhyan

 ध्यान के लाभ (dhyan ke fayde) 

  • Dhyan से शरीर की आंतरिक क्रियाओ में विशेष बदलाव आते है और शरीर की हर एक cell ऊर्जा से भर जाती है।
  • ध्यान से प्रसनत्ता ,शांति और आनंद का संचार बढ़ जाता है। जो हम बाहर दूसरे व्यक्ति से चाहने में लगे रहते है वो सब हमारे ही भीतर है।
  • ध्यान से हम खुद का आत्मदर्शन कर सकते है जिसके बारे में शायद हम कभी सोचते भी नहीं।जितना खुद  को जान जाएंगे उतनी ही समस्याओ  से दूर रह पाएंगे।
  • तन की बीमारियों को दवाई से ठीक करा जा सकता है ,पर आजकल जो मन(आत्मा)की बीमारी जैसे तनाव ,अशांति,खुद को कमजोर ,आत्मविश्वास में कमी जैसी बीमारियों का एक ही इलाज है "ध्यान। "


ध्यान को गहरा अनुभव करने के तरीके

कभी कभी क्या होता है जब हम dhyan  करने बैठे है तो मन बहुत से विचारो में उलझा रहता है और जब तक मन में हलचल रहेगी dhyan नहीं लग सकता तो आइये जानते है मन को शांत करने के आसान तरीके -


. ज़रूरतमंद लोगों की सहायता करें

जिन लोगों को help की जरुरत  होती है,उनके लिए अपना हाथ आगे बढ़ाने से बहुत satisfaction milta hai .logo ki help krne se hmare andar ek positive energ flow hoti hai jisse hume bhut khushi milti hai.


. मौन की आवाज सुने

meditation के लिए अच्छा होगा कि आप खुले में बैठे। Nature को feel करें ,और उसमे खो जाए। jab hum nature me doob jate hai to khud ko bhi bhool jate hai.jese jese मौन hote jaenge तो आपके मन की गति धीमी हो जाती है और आप सरलता से गहरे ध्यान में चले जाते हैं।


Dhyan for beginners hindi. ध्यान for beginners hindi
dhyan kese kre


. Daily meditation करें

किसी भी काम में success पाने के लिए practice जरुरी है। जब आप meditation ko daily routine me follow krenge to dhyan apne aap lgne lgega.


. संतुलित आहार की आदत डालें

उन दिनों के बारे में सोचें,जब आपने तला हुआ और nonveg खाना खाया और फिर आपने हल्का और healty  भोजन करने के बाद ध्यान किया था।to aap paenge khane ka prabhav bhi hmare dhayn par padta hai .आपके भोजन में अनाज, हरी सब्जियां,ताज़े फल,सलाद और सूप इत्यादि शामिल होने चाहिए। मुख्य तौर पर वह भोजन ग्रहण करें,जो हल्का,पचने में आसान और उच्च प्राण ( जीवन ऊर्जा )प्रदान करता है।

. Books को अपना मित्र बनाए

Books हमारी सबसे अच्छी मित्र होती है।अच्छी बुक्स पढ़ने का हमारे ऊपर गहरा असर पड़ता है ,हमारे सोचने का तरीका positive होने लगता है। free time में बेकार की बातो को सोचने से अच्छा है कि आप motivation videos देखे या पढ़े।

. Meditation  करने का समय सुनिश्चित कर लें

प्रतिदिन एक निश्चित समय पर लगातार ध्यान करने से गहरे ध्यान का मार्ग खुल जाता है।





NOTE- Aapko post kesa lga comment krke btaiye. I hope aapko kuch help mil pai ho is post se.Post aacha lge to like and share kriyega.


Thankyou



SHARE

Milan Tomic

Hi. I’m Designer of Blog Magic. I’m CEO/Founder of ThemeXpose. I’m Creative Art Director, Web Designer, UI/UX Designer, Interaction Designer, Industrial Designer, Web Developer, Business Enthusiast, StartUp Enthusiast, Speaker, Writer and Photographer. Inspired to make things looks better.

  • Image
  • Image
  • Image
  • Image
  • Image
    Blogger Comment
    Facebook Comment

2 comments:

  1. Hello I am so delighted I located your blog, I really located you by mistake, while I was watching on google for something else, Anyways I am here now and could just like to say thank for a tremendous post and a all round entertaining website. Please do keep up the great work. Guided Meditation for Nausea

    ReplyDelete
  2. Thanku so much u liked this artical.sorry for late replying.

    ReplyDelete

please do not enter any spam link in the comment box.